Home » News  »  Socia-Politics  »  Trending Issues » Dogs and Indians not allowed

Dogs and Indians not allowed

VipraDialogues | June 13, 2016 | 377  Views
Dogs and Indians not allowed

आज से कुछ सत्तर साल पह्ले ज़्यादातर hotels के बाहर ये लिखा होता था। अन्ग्रेज़ो का राज़ था ना, इसलिये हम हिन्दुस्तनियो को और कुत्तो को बैन कर रखा था। हम लोग उनके लिये कुत्तो के बराबर ही थे, या शायद उस से भी नीचे। तब की साली जो बैन किये जाने की आदत पड़ी, वो आज तक नही गयी। पर गल्ती हमारी भी नही है, ये second class होने का विश्वास हमारे DNA मे ही बस गया है। वो तो गोरा है, सही ही होगा। वो कैसे गलत हो सकता है?


udta punjab censored

पर वैसे वो अन्ग्रेज़ हमे सिखा कर बहुत कुछ गये है। For example, traffic system, rail network, communication, healthcare, thank you और sorry बोलना, पतलून पहनना— Thank you पतलून के लिये, वर्ना सर्दियो की हवा मे किशमिश बन जाता Bye God.


udta punjab censored


Anyway, अन्ग्रेज़ो को छोड़ो वो तो पुरानी बात हो गयी। आजकल hot पता है क्या है? बैन्। Porn देखते हो? बैन कर दो। दारू पीते हो? बैन कर दो। Beef खाते हो? बैन कर दो। ये बोलना बैन कर दो, वो सुनना बैन कर दो, ये पहनना बैन कर दो, वो उतारना बैन कर दो, ये गाना बैन कर दो, वो पिक्चर बैन कर दो, ये बैन कर दो, वो बैन कर दो, सब कुछ बैन कर दो। इस हिसाब से तो ये कल को कहेन्गे सीधे हाथ से हिलाना बैन है, उल्टे हाथ से हिलाओ। किस के सपने देख कर हिलाते हो? नही, उसको सोच कर हिलाना बैन है क्योकि वो दूसरे धर्म की है— बैन की भैन की— वैसे Katrina Kaif किस रिलीजन की है? पता कर लू ना भाई, कल को फ़ड्डा हो जाये तो पता तो होना चाहिये ना।


udta punjab censored


अब वो latest controversy को ही ले लो, अरे वो उड़ता पन्जाब वाली। सुना है कल एक लिस्ट भेजी है CBFC ने फ़िल्म के प्रोड्यूसर को, जिसमे 89 changes करने को कहा है। 89? और changes भी बड़े सही सही है। Punjab, Amritsar, Ludhiana, Taran Taran, ये सारे शब्द हटाओ, drug का नाम हटाओ, चिट्टावा शब्द नही आना चाहिये, कोई भी गाली नही आनी चाहिये, MP, party, MLA, Punjab government, politics, parliament, या सरकार के बारे मे कुछ नही बोलना है, drug लेते हुए नही दिखा सकते, पब्लिक मे मूतते हुए नही दिखा सकते, और पिक्चर के बाद एक बड़ा सा disclaimer डालना होगा. भईया चमचा निहलानी जी, एक काम करो ना, सीधा कह दो की शुरु मे पिक्चर का नाम आयेगा और सीधा The End। पर नही, उस मे भी तो प्रोबलम है। नाम मे भी तो पन्जाब आता है, और उस से लोगो पर बुरा असर पड़ सकता है। फ़िर 2017 मे चुनाव भी तो है ना, उसका भी तो ख्याल रखना पड़ेगा ना। कितनी नैतिक और सन्स्कारी ज़िम्मेदारी है आप पर निहलानी साहब्। पूरे देश का भविश्य आप ही के तो बुढ्ढे कन्धो पर है। कैसे कर लेते है आप ये सब इस उम्र मे? 30+ की तीन गोलिया सुबह और तीन शाम को?


udta punjab censored


udta punjab censored


2014 के चुनाव से पहले जो आपने वो विडियो बनाया था, ‘हर हर मोदी, घर घर मोदी’, उसका इनाम मिल तो गया आपको। देश मे मोदी सरकार बन गयी और आप बन गये सीबीएफ़सी के चीफ़। तो अब किस बात का बदला ले रहे हो हम से? क्यो सबकी लेते रहते हो बार बार? वायग्रा खाते हो क्या खाने मे? अच्छा एक बात बताओ, आपको नही पता क्या कि पन्जाब मे ड्र्ग्स एक बहुत बड़ी समस्या है? बच्चे, बड़े, अमीर, गरीब, यहाँ तक की पूरी की पूरी नस्ल इस की शिकार होती जा रही है। लोगो के घर बार, खेत खलिहान सब बिक गये, और आप हो कि आलोक नाथ बने बैठे हो। बिल्ली की तरह आन्खे बन्द कर लेने से समस्या का हल नही होता चमचा श्री।


udta punjab censored


udta punjab censored


For God sake, stop imposing your absurd, ancient and dogmatic views of decency and culture on us. The Indian public today is far more matured than you think, and absolutely capable of making own choices.


udta punjab censored

Comments

Vipra Dialogues Newsletter
* Subscribe to our newsletter to receive news, updates, and another stuff by email.
Subscribe Vipra Dialogues Pvt. Ltd.
WordPress Lightbox